एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड ने कहा- अगर सरकार से मंजूरी मिली तो 50% दर्शकों की मौजूदगी में लीग होगी

1 week ago 4
ARTICLE AD

इस साल 19 सितंबर से आईपीएल यूएई में होने जा रहा है। पहले ऐसी खबरें सामने आई थी कि मुकाबले खाली स्टेडियम में होंगे। लेकिन एमिरेट्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने कहा है कि अगर उन्हें सरकार से मंजूरी मिल गई, तो 30-50% दर्शकों की मौजूदगी में आईपीएल के मैच होंगे।

ईसीबी के सेक्रेटरी मुबाशिर उस्मानी ने न्यूज एजेंसी से फोन पर कहा कि एक बार हमें बीसीसीआई से भारत सरकार की मंजूरी के बारे में आधिकारिक जानकारी मिल जाए, तो हम अपनी सरकार के पास प्रपोजल और बीसीसीआई की मदद से तैयार स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसिजर (एसओपी) को लेकर जाएंगे। इधर, आईपीएल की गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग रविवार को होगी। इसमें लॉजिस्टिक्स से जुड़े इंतजामों और एसओपी को फाइनल किया जाएगा।

हम अपने यहां के लोगों को आईपीएल का अनुभव कराएंगे: ईसीबी

उन्होंने कहा कि हम यकीनन हमारे यहां के लोगों को दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग का अनुभव कराना चाहेंगे, लेकिन यह पूरी तरह से सरकार का फैसला होगा। यहां ज्यादातर टूर्नामेंट में दर्शकों की संख्या 30 से 50 फीसदी तक होती है, हम आईपीएल में भी इतनी संख्या में ही दर्शकों को लाने की उम्मीद कर रहे हैं।

'यूएई में कोरोना के 6 हजार एक्टिव मरीज'
ईसीबी के सचिव ने आगे कहा कि इसके लिए हमें अपनी सरकार से मंजूरी मिलने की पूरी उम्मीद है। यूएई में फिलहाल कोरोना के 6 हजार से ज्यादा एक्टिव मरीज हैं और यहां महामारी पर काफी हद तक काबू कर लिया गया है। हालांकि, नवंबर में होने वाले 2020 दुबई रग्बी सेवंस टूर्नामेंट को जरूर कोरोना के कारण 1970 के बाद पहली बार रद्द करना पड़ा।

यूएई सरकार ने कोरोना पर काफी हद तक काबू पाया

उन्होंने आईपीएल की सुरक्षा को लेकर हो रही चिंता के बारे में कहा कि यूएई सरकार संक्रमितों की संख्या कम करने में काफी हद तक सफल रही है। यहां कुछ नियम और प्रोटोकॉल का पालन करके लोग सामान्य जिंदगी जी रहे हैं। उस्मानी ने कहा कि आईपीएल में तो अभी थोड़ा समय है, मुझे यकीन है कि तब तक हालात और बेहतर हो जाएंगे।

हमारे यहां आईपीएल टीमों की ट्रेनिंग में कोई परेशानी नहीं: ईसीबी

ईसीबी सचिव ने कहा कि हम तो आईपीएल की मेजबानी के लिए पूरी तरह तैयार हैं। सिर्फ भारत सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं। हमारे पास प्लग एंड प्ले फैसेलिटी मौजूद है। हमने पहले ही दुबई, अबू धाबी और शरजाह स्टेडियम के ऑफिशियल्स को बता दिया है और उन्होंने अपनी तैयारियां भी शुरू कर दी हैं। इसलिए टीमों को ट्रेनिंग में कोई परेशानी नहीं होगी।

आईपीएल से यूएई की अर्थव्यवस्था को मदद मिलेगी
जब उस्मानी से यह पूछा गया कि 8 टीमों के ट्रेनिंग शेड्यूल को मैनेज करना कितना मुश्किल होगा। इस पर उन्होंने कहा कि हमारे पास प्राइवेट इंफ्रास्ट्रक्चर है। हम इस तरह के इवेंट आसानी से करने में सक्षम हैं। पहले भी हम इस तरह के आयोजन कर चुके हैं। पिछले साल ही हमने 14 टीमों वाले टी-20 वर्ल्ड कप क्वालिफायर की मेजबानी की थी।

2014 में भी हम आईपीएल के शुरुआती मैच यूएई में करा चुके हैं। इससे हमारी इकोनॉमी को भी फायदा हुआ था। इस बार तो पूरी लीग यहां हो रही है, ऐसे में हमारी अर्थव्यवस्था बूस्ट होगी।

इधर, खेल मंत्रालय ने आईपीएल को यूएई में करवाने के भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। हालांकि, अब भी बीसीसीआई को आधिकारिक घोषणा करने के लिए गृह और विदेश मंत्रालय से मंजूरी मिलने का इंतजार है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today भारत में लोकसभा चुनाव के कारण 2014 में भी आईपीेएल के शुरुआती मुकाबले यूएई मे खेले गए थे। -फाइल
Read Entire Article